chhattisgarhछत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान

छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान

छत्तीसगढ़ के राष्ट्रीय उद्यान

राष्ट्रीय उद्यान की संख्या 3 है-
1. इन्द्रावती राष्ट्रीय उद्यान
2. कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान
3. गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान

1. इन्द्रावती राष्ट्रीय उद्यान

* 1978 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित।
* जिला- बिजापुर।
* 1983 में ऐशिया का प्रथम बायोस्फेयर रिजर्व घोषित।(वर्तमान में नहीं)
* छ.ग. का प्रथम राष्ट्रीय उद्यान।
* इसके बीच से इन्द्रावती नदी बहती है।
* प्रमुख वन्यजीव- बारहसिंद्या, बाघ, वनभैंसा
* क्षेत्रफल – 1258 वर्ग किमी.।

2. कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान

* सन् 1981-82 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित।
* जिला – बस्तर में।
* क्षेत्रफल -200 वर्ग किमी.।
* सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान।
* इसके मध्य से कांगेर नदी बहती है।
* इसके अंतर्गत मुनगाबहार नदी पर तिरथगढ जलप्रपात (छग. का सबसे ऊँचा जलप्रपात) स्थित है।
* कांगेर नदी के भैंसादरहा नामक स्थान पर मगरमच्छो का प्राकृतिक स्थान है।
* इसके अंतर्गत कुटरूवन (वनभैंसा का घर) है।
* कांगेर घाटी रा. उद्यान में कुटुमसर की गुफा है।
* बस्तर में पहाड़ी मैंना का संरक्षण किया जा रहा है।
* प्रमुख वन्यजीव – पहाडी मैंना, उडन गिलहरी, रिशस बन्दर

3. गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान

* सन् 1981-82 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित।
* जिला–कोरिया+सुरजपुर में।
* पूर्व नाम – संजयगांधी रा. उद्यान।
* क्षेत्रफल — 1440 वर्ग किमी.।
* छ.ग. का सबसे बडा राष्ट्रीय उद्यान।
* प्रमुख वन्यजीव – बाघ
नीलगाय
तेदुंआ
गौर
सांभर
नोट : सभी राष्ट्रीय उद्यानों से इस उद्यान में बाघ सर्वाधिक पाये जाते है।

© 2022 All Rights Reserved